हमले में ससुर के बाद पत्नी की भी मौत

 इंदौर। एक ट्रेवल एजेंट द्वारा दोस्तों के साथ मिलकर अपने ससुर की हत्या कर दी गयी थी और नव विवाहिता पत्नी का गला रेत दिया। पत्नी को गम्भीर हालत में अस्पताल मे भर्ती कराया गया था, देर रात उसकी भी मौत हो गयी। इस दोहरे हत्याकांड में पुलिस ने आरोपी विशाल व्यास निवासी निपानिया, इंदौर ओर उसके दोस्त सन्नी गुप्ता को पकड़ लिया है। एक आरोपी सूरज सिंग ठाकुर फरार है। मामला इस प्रकार है कि विशाल ट्रेवल एजेंट का काम करता हैं। विशाल की शादी शिवपुरी की रजनी से तीन महीने पहले हुई थी। मनमुटाव होने पर रजनी मायके चली गई थी। विशाल गत रविवार को दोस्त सूरजसिंह और सन्नी के साथ ससुराल गया। उसने पत्नी को यह कहकर इंदौर आने को राजी कर लिया कि अब परिवार से अलग रहेंगे। सोनकच्छ के एक परिवार ने उनका रिश्ता कराया था, इसलिए गत सोमवार को सोनकच्छ में समझौता बैठक होना थी।

इसके लिए विशाल, उसके दोस्त, पत्नी और ससुर महेश उपाध्याय शिवपुरी से कार द्वारा सोनकच्छ आ रहे थे। रास्ते में आरोपियों ने पत्नी और ससुर को एक खेत में जिंदा जला दिया। दोनों कपड़े उतार भागने लगे तो आरोपियों ने पत्थर से सिर कुचलकर महेश को मार डाला और रजनी का गला रेत दिया। उन्हें मरा समझ फरार हो गए।मंगलवार सुबह राहगीर ने खेत में दोनों को अर्द्धनग्न देखा। पास जाकर देखा तो रजनी की सांसें चल रही थीं। पुलिस को सूचना दी और उसे इंदौर के एमवाय अस्पताल ले जाया गया। उपचार के दौरान उसने भी दम तोड़ दिया। घटनास्थल पर पड़े मिले मोबाइल के नंबरों पर पुलिस ने कॉल किया तो महेश के बेटे हेमंत उर्फ डिंपल से बात हुआ। उसने फोटो देखकर बहन और पिता होने की पुष्टि की। हेमंत का कहना है कि जेठ राहुल रजनी से पांच लाख रुपए की मांग करता था। विशाल 25 दिन पहले रजनी को शिवपुरी छोड़ गया था। यह भी बताया गया कि फलदान को लेकर विशाल के बड़े भाई राहुल और महेश में कहासुनी हुई थी।

Spread the love

14

इंदौर