Sep 19 2019 /
4:54 PM

टेरर फंडिंग और जासूसी के मामले में मप्र में पांच हिरासत में

भोपाल। टेरर फंडिंग” और जासूसी के मामले में सतना व अन्य जगह से पांच को सुरक्षा एजेंसियों ने पकड़ा है। आशंका है कि मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में ये ऑनलाइन ठगी के जरिए टेरर फंडिंग कर रहे थे।

अलग-अलग जगह दबिश देकर इनकी गिरफ्तारी की गई। बताते हैं की पकड़े गए आरोपियों में बलराम सिंह, भागवेंद्र सिंह, सुनील सिंह, शुभम तिवारी और एक अन्य है। आरोपियों के पास से फोन और लैपटॉप आदि बरामद किया गया है।

इनके पास 17 पाकिस्तानी नंबर भी मिले है। आशंका है कि ये लोग आतंकियों के फंड मैनेजर से वीडियो-मैसेंजर कॉल और वॉट्सऐप चैटिंग करते थे। 2017 में गिरफ्तारी के बाद बलराम जमानत पर बाहर आया था और वह फिर से टेरर फंडिंग का काम करने लगा।

यह भी आशंका है कि इनके द्वारा बैंक खातों में पैसा जमा कराकर उसे आतंकियों तक पहुँचाया जाता था। आरोपी बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ से जुड़े संदिग्ध लोगों को बैंक खातों और हवाला के जरिए कमीशन बेस पर पैसे ट्रांसफर करते थे।

सीधे-साधे लोगों को फोन कॉल के जरिए ईनाम में बड़ी राशि खुलने का झांसा देकर राशि वसूलने वाले गिरोह से इनकी सांठगांठ भी सामने आई है। फिलहाल छानबीन जारी है।

Spread the love

इंदौर