Jan 24 2019 /
11:51 AM

शपथ लेते ही कमलनाथ ने किसानों के 2 लाख तक के कर्ज माफी की घोषणा की

भोपाल। सोमवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही कमलनाथ ने किसानों के 2 लाख तक के कर्ज माफी की घोषणा कर दी और इस बाबद आधिकारिक आदेश भी जारी हो गए। इस घोषणा से मप्र के करीब 21 लाख किसानों को फायदा होगा।

इसके पूर्व कमलनाथ ने सोमवार को मध्यप्रदेश के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई। समारोह में कांग्रेस के अलावा 10 अन्य दलों के नेता मौजूद रहे वहीं, 4 पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, बाबूलाल गौर, दिग्विजय सिंह और कैलाश जोशी भी मंच पर मौजूद थे।

कमलनाथ ने सीएम बनने के 2 घंटे बाद किसानों की कर्ज माफी की फाइल पर दस्तखत किए। बाद में मीडिया से बात करते हुए कमलनाथ ने कहा कि हमने किसानों का कर्ज माफ कर वचन निभाया। कन्या विवाह योजना की सहयोग राशि बढ़ा दी है।

इसे 28 हजार से बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दिया गया है। हम चार गारमेंट पार्क बनाएंगे। जनता को स्वास्थ्य, शिक्षा और रोजगार कैसे दे पाएंगे, इस पर तेजी से काम करना है।

बहुत सारी योजनाएं ऐसी हैं, जिनका डिलिवरी सिस्टम खराब है और लोगों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। खुशी एक तरफ है सीएम बनने की, लेकिन पहले दिन से ही बहुत काम है। मुझे बेचैनी और चिंता भी है कि हम किस तरह से मध्यप्रदेश के लोगों की आशाओं पर खरा उतरेंगे।

कमलनाथ सरकार के पहले फैसले के तहत उन किसानों को कर्जमाफी का फायदा मिलेगा, जिन्होंने राज्य में स्थित सहकारी या राष्ट्रीयकृत बैंकों से शॉर्ट टर्म लोन लिया है।

ऐसे किसानों का 31 मार्च 2018 की स्थिति के अनुसार 2 लाख रुपए तक का कर्ज माफ होगा। इसका फायदा राज्य के 21 लाख किसानों को मिल सकता है।

कमलनाथ के मंत्रिमंडल को लेकर फिलहाल कोई स्थिति स्पष्ट नहीं है। इधर छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के रूप में भूपेश बघेल व राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी आज ही शपथ ली।


राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट शपथ लेते हुए👆🏾

छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल मुख्यमंत्री पद के शपथ लेते हुए।👆🏾

Spread the love

इंदौर