Sep 24 2019 /
2:15 PM

भाजपा का घोषणा पत्र- 60 साल की उम्र के बाद किसान व छोटे दुकानदारों को देंगे पेंशन, राम मंदिर का संकल्प दोहराया

दिल्ली। सोमवार को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इसे संकल्प पत्र का नाम दिया गया है। इसमे 60 साल की उम्र के बाद किसान व छोटे दुकानदारों को देंगे पेंशन देने की बात कही गई हैं वही राम मंदिर का संकल्प दोहराया गया है। भाजपा का ये संकल्प पत्र 48 पन्नों का है।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि घोषणापत्र बनाने के लिए 300 रथ, 7700 सुझाव पेटियां, 110 संवाद कार्यक्रम का योगदान रहा। घोषणापत्र पर राजनाथ ने कहा कि भाजपा के संकल्प पत्र में 75 वादे 2022 तक सभी वादे पूरा करने का एलान किया गया है। 12 कमेटियों ने संकल्प पत्र पूरा करने में अहम भूमिका निभाई।

देश के सभी क्षेत्रों और समुदायों के करीब 6 करोड़ सुझाव व चर्चा करने के बाद यह संकल्प पत्र बनाया गया। राष्ट्रवाद के प्रति हमारी पूरी प्रतिबद्धता है। आतंक के प्रति जीरो टॉलरेंस पॉलिसी रहेगी। यूनिफॉर्म सिविल कोड हमारी प्रतिबद्धता अभी भी है और हम इसे करेंगे। भारत में होने वाली घुसपैठ को हम सख्ती से रोकेंगे।

सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल को हम संसद के दोनों सदनों से पास कराएंगे और उसे लागू करेंगे। लेकिन किसी राज्य की कल्चरल और भाषाई पहचान को बचाएंगे। देश की सुरक्षा के साथ हमारी सरकार समझौता नहीं करेगी। राम मंदिर के संकल्प को भी हम दोहराते हैं। हमारा प्रयत्न होगा कि राम मंदिर का जल्द से जल्द निर्माण हो जाए।

प्रमुख बिंदु

  1. आतंकवाद पर जीरो टॉलरेंस की नीति
  2. राष्ट्रवाद के प्रति हमारी प्रतिबद्धता
  3. नागरिक संशोधन विधेयक पास कराएंगे
  4. राम मंदिर पर सभी विकल्प तलाशेंगे
  5. किसान क्रेडिट कार्ड पर एक लाख रुपये तक के लोन पर शून्य फीसदी ब्याज दर
  6. एक साल तक के कृषि लोन पर 5 साल तक ब्याज नहीं
  7. हेक्टेयर से जम जमीन वाले देश के सभी किसानों को 6000 सालाना मिलेगा
  8. 60 साल की उम्र के बाद देश के किसानों को पेंशन सुविधा
  9. 60 साल की उम्र के बाद देश के छोटे दुकानदारों को भी पेंशन सुविधा
  10. राष्ट्रीय व्यापार आयोग का करेंगे गठन
  11. भारत के अंदर क्षेत्रीय असंतुलन को दूर करेंगे
  12. उत्कृष्ट इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीटें बढ़ाएंगे
  13. एक देश एक चुनाव पर आम राय बनाने की कोशिश करेंगे.
  14. 2022 तक किसानों की आय दोगुना करेंगे.
  15. सभी सिंचाई परियोजनाओं को पूरा करने का काम करेंगे.
  16. सभी जमीन रिकॉर्ड को डिजिटल करेंगे.
  17. सभी गरीब परिवारों को एलपीजी कनेक्शन देंगे.
  18. मैनेजमेंट, इंजीनियरिंग कॉलेजों में सीटें बढाने का वादा

घोषणापत्र जारी करने से पहले बोले अमित शाह

2014 में भाजपा ने गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार बनाया था। हम उस समय भविष्य का विजन लेकर आए थे। 30 साल बाद देश में पहली बार अस्थिरता का दौर खत्म करके भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। पूर्ण बहुमत के बावजूद एनडीए की सरकार बनाई। 2014 से 2019 की यात्रा जब भी भारत के विकास और दुनिया में साख बढ़ने की बात होगी, ये समय स्वर्णकाल के तौर पर अंकित होगा।

इन पांच सालों में 50 करोड़ गरीबों का जीवन स्तर ऊपर उठाने का भगीरथ प्रयास पीएम मोदी ने किया है। जमीनी स्तर पर मोदी सरकार को सफलता मिली है। आतंकवाद को मुंहतोड़ जवाब देने की नीति अपनाई। देश की सीमाओं के साथ कोई छेड़खानी नहीं कर सकता। आज हमलोग 75 संकल्प लेकर देश के सामने जा रहे हैं, जब देश अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाएगा, 2022 तक हम हर संकल्प पूरा कर लेंगे।

राष्ट्रवाद से जुड़े मुद्दे पर पुराना और कठोर रुख अपनाने की तैयारी है। इसके अलावा इसमें शहीदों के परिजनों को सरकारी नौकरी देने का वादा किया जा सकता है। संकल्प पत्र कमेटी के एक सदस्य के मुताबिक घोषणा पत्र का मसौदा तैयार कर पीएम और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को सौंप दिया गया है। बीते शुक्रवार और शनिवार को इस पर जम कर माथापच्ची हुई। पीएम ने इसमें अपने स्तर पर कुछ बदलाव और सुझाव दिए हैं।

Spread the love

इंदौर