कड़ी सुरक्षा में अमरनाथ यात्रा पर पहला जत्था रवाना

जम्मू। बम बम भोले, जय बाबा अमरनाथ ओर जय बाबा बर्फानी के जयघोष के साथ बुधवार अलसुबह अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था कड़े सुरक्षा घेरे में जम्मू के भगवती नगर आधार शिविर से रवाना हुआ। यात्रियों का ये पहला जत्था कश्मीर के दो आधार शिविरों बालटाल और पहलगाम के लिए रवाना हुआ है. इस जत्थे में कुल 1904 श्रद्धालु हैं,

जिनमें 1554 पुरुष, 320 महिलाएं और 20 बच्चे शामिल हैं. ये यात्री शाम तक कश्मीर के गांदेरबाल स्थित बालटाल और अनंतनाग स्थित नुनवान, पहलगाम आधार शिविर पहुंचेंगे. जिसके बाद ये तीर्थयात्री अगले दिन 3880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित गुफा मंदिर के लिए रवाना होंगे. इससे तीर्थयात्रा की शुरूआत हो जाएगी. यात्रा का समापन 26 अगस्त को होगा जिस दिन रक्षा बंधन भी है. बुधवार सुबह जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम, जम्मू-कश्मीर राज्यपाल के दो सलाहकार विजय कुमार और बीबी व्यास ने अमरनाथ यात्रा के पहले जत्थे को हरी झंडी दी और जम्मू बेस कैंप से यात्रा के लिए रवाना किया.

इस बार सुरक्षा ऒर कड़ी

जम्मू कश्मीर के आईजी (CRPF) ने कहा कि हमने सुरक्षा के सारे इंतजाम पूरे कर लिए हैं. हम आधुनिक तकनीक और गाड़ियों का इस्तेमाल कर रहे हैं, साथ ही पिछले साल के मुकाबले इस साल सुरक्षा बढ़ाई गई है. हम किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं. वहीं, पहले जत्थे के यात्रियों ने कहा कि वो इस यात्रा को लेकर बेहद खुश हैं, उन्हें किसी प्रकार का डर नहीं है। गौरतलब है कि अभी तक देशभर से 2 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने दक्षिण कश्मीर हिमालय में स्थित अमरनाथ गुफा की यात्रा के लिए पंजीकरण कराया है। श्रद्धालुओं में साधु भी शामिल हैं. श्रद्धालुओं का देश के विभिन्न हिस्सों से यहां पहुंचना शुरू हो गया है.

Spread the love

10

इंदौर