Dec 01 2022 / 10:15 PM

पीएम मोदी ने विपक्ष पर बोला हमला- 1 ट्रिलियन की इकोनॉमी बनाने में लगे 60 साल

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के तहत पुणे में रैली एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। पीएम मोदी ने कहा कि 2007 में देश की अर्थव्यवस्था एक ट्रिलियन हुई थी। फिर आठ साल बाद 2 ट्रिलियन हुई, लेकिन चार साल में अर्थव्यवस्था में जो सुधार हुआ है, उसके बल पर हम 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था वाला भारत बनाएंगे। हमारे लिए 5 ट्रिलियन डॉलर केवल एक मील का पत्थर नहीं है, बल्कि 130 करोड़ भारतीयों के सपनों से जुड़ी शपथ है।

उन्होंने कहा कि जितनी बड़ी अर्थव्यवस्था होगी, उतनी तेज़ी से हम गरीबी को हरा पाएंगे। जितनी बड़ी अर्थव्यवस्था होगी, उतनी ही तेजी से मध्यम वर्ग का जीवन स्तर ऊपर उठा पाएंगे। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने Economy से जुड़े कई बड़े फैसले लिए हैं। भारत में मैन्युफेक्चरिंग को प्रमोट करने के लिए, स्टार्ट अप्स को प्रोत्साहित करने के लिए कॉरपोरेट टैक्स में भारी छूट दी है।

उन्होंने कहा कि सुरक्षा हो, स्वच्छता हो या फिर स्पीड, एक साथ सभी मोर्चों पर काम किया जा रहा है। वंदे भारत और तेजस एक्स्प्रेस जैसी आधुनिक और तेज़ी से चलने वाली ट्रेनें अनेक जगह शुरु हो चुकी हैं। पीएम मोदी ने कहा कि जब Investment आता है तो Industry बढ़ती है। Industry का विकास होता है तो Innovation का कल्चर विकसित होता है। एक बार जम्मू कश्मीर और लद्दाख में ये कल्चर हम तैयार कर पाए, तो अलगाव के लिए, आतंक और हिंसा के लिए स्कोप अपने आप खत्म होता चला जाएगा।

370 हटाने के लिए किसी सरकार ने हिम्मत नहीं दिखाई

70 साल से 370 की ये बहुत बड़ी रुकावट एक देश, एक संविधान की राह में खड़ी थी। इस रुकावट को दूर करने की बातें तो बहुत हुईं, लेकिन कभी किसी ने हिम्मत दिखाई नहीं। आखिर क्यों? क्या भारत के इतिहास में पहली बार प्रचंड बहुमत से सरकार बनी है? जी हां, लेकिन किसी ने हिम्मत नहीं दिखाई।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं मानता हूं, ये जो फैसला लिया गया, वो आसान नहीं था। जब भी यथा स्थिति को हम बदलते हैं, तो प्रतिरोध स्वभाविक है, समस्याएं आना सामान्य है। लेकिन 21वीं सदी का भारत, डरकर, यथा स्थिति में नहीं रह सकता। 21वीं सदी का भारत चुनौतियों को कारपेट के नीचे दबाने का जोखिम नहीं ले सकता।

5 साल का खाका खींच लिया है

पीएम मोदी ने कहा कि आपने 5 साल के लिए सरकार चुनी है। अभी 5 महीने भी पूरे नहीं हुए हैं, लेकिन इतने कम समय में ही 5 वर्षों का खाका हमने खींच लिया है। आपका आशीर्वाद ही मुझे ये ताकत देता है। दुनिया का दिग्गज से दिग्गज नेता जब मोदी से हाथ मिलाता है तो उसे मोदी नहीं बल्कि 130 करोड़ भारतीय दिखते हैं। भारतीयों की इसी सामुहिक ताकत को हमारे समाज का सामर्थ्य बनाने का प्रयास लोकमान्य तिलक ने किया था।

Share with

INDORE