सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकें-गृह मंत्रालय

नईदिल्ली। सोश्यल मीडिया पर तेज़ी से फेल रही अफवाहों ओर इसके कारण उत्पन्न हो रही अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए अब सरकार सक्रिय हुई है

गृहमंत्रालय ने इस मामले में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एडवाइजरी भेजकर सोशल मीडिया पर अफवाहों के बाद हिंसा रोकने को कहा है.

गृहमंत्रालय की एडवाइजरी के मुताबिक सभी राज्य निर्देश जारी करें कि अफवाह फैलने और उसकी वजह से हिंसा रोकने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी.

जिला प्रशासन को ये सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं कि वो सोशल मीडिया पर लगातार नजर रखे और बच्चा चोरी के अफवाहों को फैलने से पहले ही रोकने के लिए कदम उठाए.

जिला प्रशासन उन तमाम इलाकों की पहचान करे जहां से बच्चा चोरी की अफवाहें फैली हैं और भीड़तंत्र उसे रोकने के लिए पहरेदारी के नाम पर हिंसा पर उतारू हो सकते हैं.।

एडवाइजरी में ये भी कहा गया है कि जिला प्रशासन संवेदनशील इलाकों की पहचान कर नागरिकों में सोशल मीडिया पर अफवाहों के प्रति जागरूकता अभियान चलाए ताकि भीड़ की हिंसा का खामियाजा किसी निर्दोष को ना भुगतना पड़े.

दरअसल गृहमंत्रालय की वार्षिक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि पिछले साल पूरे देश में बच्चों के गायब होने की घटनाएं हुईं, लेकिन उनकी जांच और बच्चों की बरामदगी नहीं हुई. गृहमंत्रालय के अफसरों के मुताबिक ये बच्चा चोरी के अफवाहों के पीछे बड़ी वज़ह हो सकती है।

Spread the love

21

इंदौर