मुख्यमंत्री को फिर सुनना पड़ी खरी खोटी, आक्रोशित महिला ने पत्थर मारने की बात कही

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एक बार फिर नैनीताल क्षेत्र में जनाक्रोश का शिकार हो गए। बस एक्सीडेंट से 48 लोगो की मौत के बाद हालात का जायजा लेने के लिए घटनास्थल पर पहुंचे थे।
जहां मुख्यमंत्री को महिलाओं ने घेर लिया और उनके साथ अभद्रता करनी शुरू कर दी।
बताते है कि मामला उस समय बेहद खराब हो गया जब एक ग्रामीण महिला ने कड़वे शब्दों का प्रयोग करते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को कहना शुरू कर दिया। ‘भागो यहां से वरना हम सब तुम्हें पत्थर से मारेंगे।
फिर तुमको जो मर्ज़ी हो कर लेना, सिर्फ वोट मांगने के लिए आ जाते हैं।

वैसे पूछते भी नहीं। विरोध बढ़ता देख इन अधिकारियों ने अपनी टीम के साथ मुख्यमंत्री को उन महिलाओं के बीच से निकाला।

गौरतलब है कि बीते रोज जनता दरबार में मुख्यमंत्री रावत और एक महिला शिक्षिका के बीच जबरदस्त गर्मागर्मी हो गई थी।

जिसके बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के द्वारा जनता दरबार में ही आदेश दे दिए गए थे कि शिक्षिका को सस्पेंड करिए और तुरंत हिरासत में लीजिए।

Spread the love

इंदौर