Jun 25 2019 /
3:36 AM

ट्रक हड़ताल पांचवां दिन: बिगड़ सकते हैं हालात

इंदौर।ट्रांसपोर्टरों की अनिश्चितकालीन देशव्यापी हड़ताल बुधवार को 5वे दिन में प्रवेश कर गयी। इसका असर दिखने लगा है। इंदौर से लेकर मप्र के अन्य शहरों के अलावा दिल्ली यूपी, बिहार और झारखंड में भी फलों और सब्जियों के साथ अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में उछाल आया है।

मंडियों में आवक कम होने से फलों के दाम करीब दस फीसदी और सब्जियों की कीमतों में करीब 25 फीसदी का उछाल आया है। ट्रांसपोर्टरों की मुख्य एसोसिएशन ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस का कहना है कि अभी सरकार से बातचीत का कोई प्रस्ताव नहीं मिला है, ऐसे में अगर आवश्यक वस्तुओं की किल्लत पैदा होती है तो उन्हें जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। अगर हड़ताल आगे भी जारी रहती है तो आपूर्ति कम होने का और असर दिखेगा।
फल-सब्जी और अन्य खाद्य पदार्थों की आपूर्ति पर दबाव बढ़ेगा। थोक महंगाई और खुदरा महंगाई पहले ही ग्राहकों की जेब हल्की कर रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल से किसान की फसल का मंडी और मंडी से खुदरा दुकानों तक पहुंचना कम हुआ है।

 

इंदौर का सियागंज कल बन्द इस ट्रक हड़ताल के समर्थन में गुरुवार को इंदौर के सियागंज बन्द रहेगा।

 

Spread the love

इंदौर