Oct 17 2019 /
12:50 AM

इंदौर में होने वाली पत्नी की जासूसी के लिए फ़र्ज़ी आईडी बनाना महंगा पड़ा, शादी के बाद पति गिरफ्तार

इंदौर। इंदौर में एक ऐसा मामला सामने आया जिसमे एक नर्सरी संचालक युवक को अपनी होने वाली पत्नी की जासूसी के लिए फ़र्ज़ी आईडी बनाना महंगा पड़ गया। राज्य सायबर सेल ने जब जांच के बाद उसे गिरफ्तार किया तब उसकी शादी हो चुकी थी।

पकड़े गए आरोपी का नाम अक्षय पिता अरविंद शर्मा निवासी रॉयल टाउन पीथमपुर है। सायबर एसपी इंदौर जितेंद्र सिंह ने बताया कि मामला करीब दो वर्ष पहले का है। एक युवती ने शिकायत की थी कि अज्ञात व्यक्ति ने यामिनी मिश्रा के नाम से फेसबुक आईडी बनाकर उसकी डीपी पर उसके फोटो लगा रखी हैं।

जांच में खुलासा हुआ कि आईडी उक्त आरोपी अक्षय शर्मा चला रहा था।उसने पूछताछ में बताया कि दो वर्ष पूर्व जिस युवती से शादी हुई उससे प्रेम प्रसंग चल रहा था। वह उसकी निजी जानकारी जुटाना चाहता था। शादी के पहले उसने यामिनी के नाम से आईडी बना ली और पत्नी की सहेली के फेसबुक अकाउंट से फोटो निकालकर सेव कर लिए।

कुछ दिन तक पत्नी ने चेटिंग की लेकिन बाद में उसने सहेली को बता दिया। सहेली ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज करा दी। कुछ समय बाद अक्षय की शादी हो गई।

लेकिन मामला जांच में होने के कारण साइबर सेल ने केस दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। उसकी धरपकड एवं अपराध का पर्दाफाश करने में निरीक्षक अंबरीश मिश्रा , उप निरीक्षक आशुतोष मिठास, उप निरीक्षक अंबाराम बारोङ, उप निरीक्षक जितेन्द्र चौहान, आरक्षक विक्रांत तिवारी, आरक्षक रमेश भिडे, आरक्षक आशीष , आरक्षक विशाल महाजन की भूमिका रही।

Spread the love

इंदौर