Sep 24 2019 /
3:06 PM

इंदौर में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म में मुँहबोले दादा को 10-10 साल का दोहरा सश्रम कारावास

इंदौर। विशेष न्यायाधीश वर्षा शर्मा की कोर्ट ने एक सात वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म की कोशिश करने वाले मुंहबोले दादा को 10-10 साल के दोहरे सश्रम कारावास की सजा सुनाई।

जिला अभियोजन अधिकारी मो.अकरम शेख ने बताया कि कोर्ट ने उक्त सजा के साथ दो हजार रुपए अर्थदंड भी किया है। घटना 6 जनवरी 2015 की है।

राजेंद्र नगर क्षेत्र में एक महिला अपने रिश्तेदार को देखने के लिए निजी अस्पताल गई थी। उसका पति काम पर गया था। घर पर उसकी बेटी (पीड़िता) और बेटा था।

वह अस्पताल पहुंची तो बेटे ने फोन पर बताया कि ऊपर रहने वाले मुँहबोले दादा 60 वर्षीय भगवान वानखेड़े पिता लहानु वानखेड़े निवासी बुद्धनगर डुप्लेक्स, इंदौर ने बहन के साथ कुछ किया है। महिला घर पहुंची तो बेटी ने बताया कि वह आरोपित के घर खेलने गई थी।

तब आरोपी उसे दीवार की तरफ ले गया और गलत काम करने लगा। वह घबराकर चिल्लाई तो वह उसे छोड़कर भाग गया। घटना की रिपोर्ट पुलिस में की गई।

कोर्ट ने फैसले में कहा कि बालिका हिम्मत दिखाकर चिल्लाती नहीं तो निश्चित ही आरोपित उसके साथ गलत काम कर देता। अतः अपराध की गंभीरता देखते हुए आरोपित के प्रति कोई नरमी नहीं दिखाई जा सकती।

Spread the love

इंदौर