Oct 17 2019 /
1:49 AM

इंदौर में 7 लाख फिरौती के लिए बालक के अपहरणकर्ता को आजीवन कारावास की सजा

इंदौर। सोमवार को अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश योगेंद्र कुमार त्यागी की कोर्ट ने फिरौती के लिए एक बालक के अपहरणकर्ता को दोषी पाते हुए उसे आजीवन कारावास व ₹5000 अर्थदंड की सजा सुनाई। सजा पाने वाले का नाम धीरज पिता रामपाल रजक निवासी महाराजपुरा छतरपुर है। एजीपी उमेश यादव ने बताया कि घटना 26 जून 2013 की है।

बेटमा थाना क्षेत्र के मारुति नगर काली बिल्लोद में रहने वाले राम ललित प्रसाद के 6 साल के पुत्र कृष्णा का उक्त आरोपी धीरज व उसके 3 साथी नितेश मोहित व एक अन्य नर घर के बाहर से अपहरण कर लिया था और सात लाख रुपए फिरौती मांगी थी। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से बालक को सकुशल बरामद कर लिया था। शेष तीन अन्य आरोपियों को कोर्ट द्वारा 22 दिसंबर 2016 को आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा चुकी थी केकिन तब आरोपी धीरज फरार था। बाद में पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार किया और उसके विरूद्ध केस चला जिसमें आज उसे उक्त सज़ा सुनाई गई।

Spread the love

इंदौर