इंदौर में अपने ही लकवाग्रस्त पिता की हत्‍या करने वाली बेटी व उसकी सहेली को आजीवन कारावास

इंदौर। इंदौर में अपने ही लकवाग्रस्त पिता की हत्‍या करने वाली बेटी व उसकी सहेली को आजीवन कारावास की सजा तेरहवें अपर सत्र न्‍यायाधीश सुधीर कुमार चौधरी की कोर्ट ने बुधवार को सुनाई।


जिला अभियोजन अधिकारी मो. अकरम शेख ने बताया कि आरोपीगण सोनू उर्फ शीला पिता गजेन्‍द्र शुक्‍ला निवासी सावेर रोड इंदौर एवं साक्षी उर्फ प्रीति पिता देवेन्‍द्र त्रिवेदी निवासी सावेर रोड इंदौर को दोषी पाते हुए धारा 302 भा‍दवि में आजीवन कारावास व 2000-2000 रूपये का अर्थदण्‍ड से दंडित किया गया।

प्रकरण में अभियोजन की ओर से तर्क एडीपीओ शोभा दशोरे द्वारा किये गए। न्‍यायालय द्वारा अपने निर्णय में यह लेख किया है कि अभियुक्‍तगण ने उनके साथ निवासरत एवं लकवाग्रस्‍त देवेन्‍द्र त्रिवेदी को घातक चोटे पहुचाकर उसकी हत्‍या कारित की है इसलिए अभियुक्‍तगण किसी सहानूभूति के पात्र नही हैं।

अभियोजन कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि 24 मार्च 2018 को कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र के मॉर्डन चौराहा पुरानी अंग्रेजी वाईन शॉप के सामने एक व्‍यक्ति की संदिग्‍ध अवस्‍था में मृत्‍यु हो गई हैं।

परिवार वालो के द्वारा शव के अंतिम संस्‍कार की तैयारी की जा रही हैं। सूचना की तस्‍दीक हेतु मॉर्डन चौराहा पर जाकर देखा कि वहां पर एक घर के सामने अर्थी तैयार की जा रही थी, कंडा जल रहा था। जिसके मकान के मालिक सोनू उर्फ शीला त्रिवेदी से पूछताछ की तो उसने बताया कि मेरी सहेली के पिता देवेन्‍द्र की मृत्‍यु हो गयी हैं।

आसपास वालों से पूछताछ करने पर पता चला कि रात में मृतक देवेंद्र के साथ उसकी लडकी साक्षी उर्फ प्रीति व सोनू शुक्‍ला के द्वारा मारपीट की गई हैं। विनोद शर्मा ने जब मृतक देवेन्‍द्र त्रिवेदी का शव देखा तो शव पर चोट के निशान पाए गए।

तब मृतक देवेन्‍द्र पिता सुंदरलाल त्रिवेदी के शव को आवेदन पत्र के साथ पी.एम. कराने हेतु अस्‍पताल पहुंचाया गया। जांच के दौरान साक्षी मोतीलाल तथा साक्षी छगनलाल के कथन लिए गए, जिन्‍होंने उनके क‍थनों में बताया कि उन्‍होंने तथा अन्‍य लोगों ने रात में सोनू शुक्‍ला को देवेन्‍द्र के साथ, जो लकवे का पेशेंट थे तथा चिल्‍ला नही सकते थे, लोहे के पाईप से मारपीट करते देखा था तथा मृतक की लडकी साक्षी उर्फ प्रीति ने पुलिस को गुमराह कर, बाले-बाले मृतक के अंतिम संस्‍कार की तैयारी में, सोनू शुक्‍ला मेडम की मदद की हैं।

     
Spread the love

3

इंदौर