Jun 19 2019 /
10:59 PM

अस्थि जांच में नाबालिग पाया गया हत्या का आरोपी, अब किशोर न्यायालय में चलेगा केस

इंदौर। इंदौर पुलिस ने हत्या के एक मामले में एक युवक को बालिग मानकर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, कोर्ट के निर्देश पर कराई गई अस्थि जांच में वह नाबालिग पाया गया। इसके चलते अब उसके विरुद्ध किशोर न्यायालय में केस चलाए जाने के आदेश कोर्ट ने दिए हैं। मामला पंढरीनाथ थाना क्षेत्र में गत वर्ष 8 नवंबर 2018 को दीपावली की अगले दिन पड़वा का है।

इस इस थाना क्षेत्र के कड़ावघाट में अचेस राव नामक युवक की हत्या कर दी गई थी। इसमें अन्य आरोपियों सहित उक्त नाबालिग सचिन (परिवर्तित नाम) को भी बालिग मानते हुए पुलिस ने आरोपी बनाकर जेल भेज दिया था। उसकी ओर से जेएमएफसी कोर्ट में अधिवक्ता ऋषि पंडित ने आवेदन देकर नाबालिग बताया था। कोर्ट ने आवेदन खारिज़ कर दिया।

इस पर एडीजे कोर्ट में रिवीजन लगाई गई। एडीजे कोर्ट के निर्देश पर जेएमएफसी कोर्ट ने नए सिरे से मामले की सुनवाई की और उक्त आरोपी के नाबालिग होने के ठोस दस्तावेजी प्रमाण ना होने पर उसकी अस्थि जांच कराई गई। इसकी जांच रिपोर्ट में यह पाया गया कि उसकी उम्र लगभग 17 वर्ष 6 माह है। इस आधार पर उसे नाबालिग मानते हुए कोर्ट ने उसके विरुद्ध हत्या का प्रकरण किशोर न्यायालय में चलाए जाने के निर्देश दिए।

Spread the love

इंदौर