Oct 17 2019 /
1:37 AM

हजयात्रियों को मक्का में रूबायतों (धर्मशाला) में नहीं रूकवाने का मुद्दा हाईकोर्ट पहुँचा, विदेश मंत्रालय व अन्य को नोटिस

इंदौर। हजयात्रियों को मक्का में रूबायतों (धर्मशाला) में नहीं रूकवाने का मुद्दा हाईकोर्ट पहुँचा है। इस मामले में कोर्ट ने विदेश मंत्रालय व अन्य को नोटिस जारी कर 4 सप्ताह में जवाब मांगा है।

जिन अन्य को नोटिस जारी किए गए इनमें विदेश मंत्रालय के अलावा केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय, हज कमेटी मुंबई, हज कमेटी सी ई ओ भोपाल शामिल है।

न्यायमूर्ति एस सी शर्मा और न्यायमूर्ति वीरेंद्र सिंह की डिवीजन बेंच ने ये नोटिस जारी किए। इस मामले में एक जनहित याचिका मो तबरेज खान की ओर से एडवोकेट मनीष यादव द्वारा दायर की गई है।

इसमे तर्क रखे गए कि मध्यप्रदेश के हजारों यात्री प्रति वर्ष हज के लिए मक्का जाते है जिसमे एक यात्री पर रुकने का प्रतिव्यक्ति लगभग 85000 खर्च आता है जबकि शासन के फंड से वहाँ रुबायतो का निर्माण कराया गया था लेकिन इनका उपयोग नही हो रहा है।

उस कारण यात्रियों को आर्थिक बोझ का सामना करना पड़ रहा है। जिस पर कोर्ट ने उक्त नोटिस जारी कर 4 सप्ताह में जवाब मांगा है अगली सुनवाई सितम्बर माह में होगी।

Spread the love

इंदौर