Mar 20 2019 /
4:27 AM

राफेल सौदे के दस्तावेज लीक होने से राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में पड़ी, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दिया हलफनामा

दिल्ली। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर केन्द्र सरकार ने कहा है कि राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े संवेदनशील दस्तावेज राफेल सौदे को लेकर दायर पुनर्विचार याचिका के साथ संलग्न कर सार्वजनिक किये जाने से राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में पड़ी है।

सरकार की इजाजत के बगैर जिन लोगों ने संवेदनशील दस्तावेजों की फोटोकापी करके लीक करने का षडयंत्र रचा है और उसे पुनर्विचार याचिका के साथ संलग्न कर, चोरी का अपराध किया है। सरकार ने कहा है कि मामले की आंतरिक जांच चल रही है।

कोर्ट उन दस्तावेजों को रिकार्ड से हटा कर पुनर्विचार याचिकाएं खारिज करे। राफेल मामले में पुनर्विचार याचिकाओं पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

सुप्रीम कोर्ट ने गत वर्ष 14 दिसंबर को राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद सौदे की जांच एसआइटी से कराए जाने की मांग याचिकाएं खारिज कर दी थीं। याचिकाकर्ताओं ने उस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिकाएं दाखिल कर रखी हैं।

पुनर्विचार याचिका दाखिल करने वालों में भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वकील प्रशांत भूषण भी शामिल हैं।

Spread the love

इंदौर