Aug 24 2019 /
5:33 AM

प्रोफेशनल एक्जामिनेश बोर्ड के परीक्षा केंद्रों पर अनिवार्य हो आई स्केनर-हाई कोर्ट

स्कीन डिसिज के कारण विद्यार्थियों के फिंगर प्रिंट नहीं मैच होने से आती है परेशानी
इंदौर। इंदौर हाई कोर्ट की वेकेशन बेंच ने निर्देशित किया है कि प्रोफेशनल एक्जामिनेश बोर्ड (पीईबी) अपने परीक्षा केंद्रों पर फिंगर प्रिंट चैक करने की मशीन के साथ आई स्केनर मशीन भी रखें ताकि छात्रों को परेशानी नही आये । हाई कोर्ट की वैकेशन डिवीजन बैंच ने छात्र भूपेंद्र सिंह की ओर से एडवोकेट विशाल सनोठिया द्वारा दायर याचिका में उक्त आदेश जारी किए।

याचिका में कहा गया कि कई बार स्कीन डिसिज (चर्म रोग) के चलते विद्यार्थियों के फिंगर प्रिंट आधार कार्ड के रिकॉर्ड से मैच नहीं करते हैं जिससे वे लोग परीक्षा देने से वंचित रह जाते हैं। पिछले साल हुई परीक्षा में याचिकाकर्ता परीक्षा देने से वंचित रह गया था, इस बार भी उसके साथ ऐसा न हो इसलिए उसने याचिका दायर की थी।

याचिकाकर्ता भूपेंद्र सिंह प्री एग्रीकल्चर टेस्ट की तैयारी कर रहे हैं। पिछले वर्ष जब वे परीक्षा देने गए थे तो उनके फिंगर प्रिंट का मिलान आधार कार्ड में दर्ज फिंगर प्रिंट से नहीं हो सका और उस वजह से वह परीक्षा में शामिल नहीं हो सके थे।

उन्हें स्कीन डिसिज होने की वजह से यह परेशानी थी। आगामी २९ जून को फिर प्री एग्रीकल्चर टेस्ट होना है। इस बार परेशानी न आए इसलिए उन्होंन हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी जिस पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने उक्त निर्देश दिए।

Spread the love

इंदौर