Mar 20 2019 /
5:11 AM

अमरनाथ यात्रा इस बार 46 दिन की, एक जुलाई से शुरू, रजिस्ट्रेशन एक अप्रैल से

गत वर्ष 60 दिन निकली पवित्र अमरनाथ यात्रा इस बार केवल 46 दिन की रहेगी। सीमा पर मौजूदा हालात को देखते हुए इस मर्तबा यात्रियों की सुरक्षा के प्रबंध अत्यधिक कड़े रहेंगे इस बार की अमरनाथ यात्रा आगामी 01 जुलाई से प्रारंभ होकर 15 अगस्त तक चलेगी।

इस यात्रा हेतु रजिस्ट्रेशन 01 एक अप्रैल से प्रारंभ होकर अगस्त के प्रथम सप्ताह तक जारी रहेगा। रजिस्ट्रेशन इंदौर के अलावा देश भर में स्थित जम्मू एंड कश्मीर व पंजाब नेशनल बैंक की चार सौ से अधिक शाखाओं में किए जाएंगे।

यात्रा में बालटाल व पहलगाम मार्ग से प्रतिदिन 7500 यात्रियों को पवित्र अमरनाथ गुफा तक जाने दिया जाएगा। इसके अलावा हेलिकाप्टर से यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या अलग रहेगी। श्राइन बोर्ड द्व‌ारा निर्धारित शासकीय अस्पतालों के मेडिकल आफीसर द्व‌ारा दिया गया मेडिकल सर्टिफिकेट ही मान्य होगा।

इन डाॅक्टरों के नामों की सूची बोर्ड रजिस्ट्रेशन प्रारंभ होने से पहले जारी करेगा। है साल की तरह इस वर्ष भी 13 वर्ष से कम और 75 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के पंजीयन नहीं किए जाएंगे। छह सप्ताह से अधिक समय की गर्भवती महिला का भी पंजीयन नहीं किया जाएगा।

गौरतलब है कि अमरनाथ हिन्दुओं का एक प्रमुख तीर्थस्थल है। यह कश्मीर राज्य के श्रीनगर शहर के उत्तर-पूर्व में समुद्रतल से 13, 600 फुट की ऊँचाई पर स्थित है। इस गुफा की लंबाई 19 मीटर और चौड़ाई 16 मीटर है।

गुफा 11 मीटर ऊँची है। अमरनाथ गुफा भगवान शिव के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है। श्रद्धालु यहां पहलगाम व बालटाल दो अलग अलग रास्तों से पैदल या टट्टू पर जाते हैं। हेलीकॉप्टर सेवा भी बालटाल से है।

Spread the love

इंदौर