24 जनवरी से कुंभ राशि के जातकों को शुरू होगी शनि की साढ़े साती, मिथुन व तुला पर शुरू होगा ढैय्या

नए वर्ष 2020 की 24 जनवरी को न्याय के देवता शनिदेव धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं।


शनि के इस राशि परिवर्तन से वृश्चिक राशि की साढ़े साती समाप्त होगी, जबकि कन्या और वृष राशि से शनि की ढैय्या उतर जाएगा, वहीं कुंभ राशि पर शनि की साढ़े साती शुरू हो जाएगी। मकर व धनु पर पहले से ही साढ़े साती चल रही हैं।

इधर तुला और मिथुन राशि पर शनि की ढैय्या शुरू होगी। इस तरह धनु, मकर और कुंभ पर शनि की साढ़े साती और मिथुन व तुला पर शनि की ढैय्या रहेगा।


ज्योतिषों के अनुसार माना जाता है कि शनि जब किसी राशि का गोचर होता है तो उसके आगे और पीछे की राशि पर भी असर पड़ता है। शनि जब चंद्र राशि से चतुर्थ भाव और अष्टम भाव से निकलते है उस समय ढैय्या या कंटक शनि के नाम से जाना जाता है। सभी 9 ग्रहों में ग्रहों का मंत्रिमंडल बनता है, जिसमें शनि न्यायाधीश है और साथ में सेवक की भी भूमिका निभाता है।

चूंकि शनि कर्मप्रधान और न्यायप्रिय है। इसलिए अपमे कर्मों के प्रति सचेत रहकर आप शनि के प्रकोप से आसानी से बच सकते है।


किस राशि पर क्या प्रभाव
मेष : समय अनुकूल। पदोन्नति, आय के साधन बढ़ेंगे, नई योजनाओं पर काम।


वृष : यश व मान सम्मान में वृद्धि, मंगल कार्य होंगे।


मिथुन : सचेत रहने का समय। घरेलू तनाव, आर्थिक परेशानी।


कर्क : धन के अनायास मिलने के योग, पार्टनर शिप से फायदा। बिगड़े काम बनेंगे।


सिंह : कानूनी अड़चनों से राहत, स्वास्थ्य में सुधार, शुभ समाचार मिलेंगे।


कन्या : दिन बदलेंगे, आर्थिक व सम्पत्ति के योग, रुके काम बनेंगे।


तुला: वाणी पर संयम रखें, शत्रु सक्रिय रहेंगे, नौकरी में तनाव, धार्मिक यात्राएं होगी।


वृश्चिक : समय अनुकूल, ये के नए स्त्रोत बनेंगे, पुराने विबाद निपटेंगे।


धनु: अच्छे दिन के संकेत। यश के साथ धन में वृद्धि। घरेलू झगड़े खत्म होंगे।


मकर : परेशानियों से राहत। बिगड़े काम मे सफलता। मंगल कार्य होंगे।


कुंभ : मिलाजुला समय रहेगा। कार्यो में तनाव रह सकता है लेकिन पूर्व की तुलना में हालात ठीक होंगे। विदेश यात्रा के योग भी बन सकते हैं।


मीन : ये बढ़ने के साथ खर्च में भी वृद्धि। रुके काम बनेंगे। पारिवारिक जीवन ठीक रहेगा।

Spread the love

इंदौर