Aug 21 2019 /
11:19 AM

2 सितंबर से इंदौर के खजराना गणेश मंदिर में दस दिनी गणेशोत्सव, सवा लाख मोदक लड्डूओं का भोग लगेगा, रोज भजन संध्या होगी

इंदौर। इंदौर के सुप्रसिद्ध खजराना गणेश मंदिर में 2 सितंबर गणेश चतुर्थी से शुरू होने वाले 10 दिवसीय गणेश उत्सव के आयोजन की व्यापक तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं।

इस वर्ष मंदिर तथा आसपास के परिसर और रिंग रोड तक पहुंचने वाले सड़क तक आकर्षक विद्युत सज्जा की जायेगी। मंदिर को विशेष रूप से सजाया संवारा जायेगा। यहां 10 दिन तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होगें।

यह निर्णय आयुक्त नगर निगम एवं प्रशासक श्री गणपति मंदिर खजराना आशीष सिंह की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में लिये गये। बैठक में नवदुर्गा उत्सव के कार्यक्रम पर भी चर्चा की गई।

बैठक श्री गणपति मंदिर कार्यालय में ली गई, जिसमें उप पुलिस अधीक्षक यातायात एवं थाना प्रभारी, थाना खजराना, मंदिर के पुजारी मोहन भट्ट, अशोक भट्ट, श्री विनीत भट्ट, सतपाल भट्ट एवं अरविंद बागड़ी, समाजसेवी तथा मंदिर के भक्त मण्डल के भक्तगण उपस्थित थे।

बैठक में निर्णय लिया गया कि गणेश चतुर्थी से अनंत चतुर्दशी तक प्रतिदिन भगवान गणेश का स्वर्ण आभूषणों, मनभावन तरीकों तथा फूलों से श्रृंगार कर सजाया जायेगा।

गणेश चतुर्थी के उत्सव का शुभारंभ कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री गणपति मंदिर खजराना लोकेश कुमार जाटव द्वारा ध्वजा पूजन से किया जायेगा। भगवान को सवा लाख मोदक लड्डूओं का भोग लगाया जायेगा।

इसी दौरान पर्व के समय प्रतिदिन गणेश चतुर्थी से अनंत चतुर्दर्शी तक विभिन्न प्रकार के अनाज जैसे ज्वार, बाजरा, गुड ड्रायफ्रूटस आदि के लड्डुओं का निर्माण कर भोग लगाया जायेगा। उक्त व्यवस्था श्री अरविंद बागड़ी, समाजसेवी द्वारा एवं समाजसेवियों के माध्यम से की जायेगी।

गणेश चतुर्थी से अनंत चतुर्दशी तक यातायात सुचारू रूप से चलता रहे एवं मंदिर परिसर में दर्शनार्थियों को दर्शन सुलभ हो, इसके लिए उप पुलिस अधीक्षक, यातायात एवं पुलिस निरीक्षक, थाना, खजराना को निर्देश दिये गये है।

पुजारी विनीत भट्ट के प्रस्ताव पर पर्व के समय रिंग रोड से मंदिर परिसर सहित रिंग रोड पर में आकर्षित विद्युत सज्जा की जायेगी तथा मार्ग पर हेलोजन लगाकर प्रकाशमय किया जायेगा।

गणेश चतुर्थी से अनंत चतुर्दशी तक प्रतिदिन भजन संध्या आयोजित की जायेगी, जिसमें विभिन्न कलाकारों द्वारा प्रतिदिन भजनों की प्रस्तुति की जायेगी। अनंत चतुर्दशी को खजराना मंदिर की झांकी प्रथम रहती है। इसका निर्माण धार्मिक थीम पर बनाने का निर्णय लिया गया। इस हेतु समिति का गठन किया गया है।

नवदुर्गा उत्सव गरबा मण्डप सजाए जाने हेतु विस्तृत सज्जा किये जाने के भी निर्देश दिये गये।

Spread the love

इंदौर