Jun 26 2019 /
7:52 AM

दशहरा मैदान पर 10 अप्रेल से सुधांशु महाराज का पांच दिवसीय विराट भक्ति सत्संग

इन्दौर। विश्व जागृति मिशन के संस्थापक आचार्य सुधांशुजी महाराज बुधवार 10 अप्रैल को दोपहर 12.30 बजे विमान से इंदौर आएंगे। राज्य शासन ने उन्हे राजकीय अतिथि का दर्जा प्रदान किया है। विमानतल से दशहरा मैदान के पास स्थित संत निवास तक उन्हे एक वाहन रैली के साथ लाया जाएगा। दशहरा मैदान पर बुधवार शाम 5 बजे से पांच दिवसीय विराट भक्ति सत्संग का शुभारंभ होगा। दशहरा मैदान पर 50 हजार भक्तों के लिए सुसज्जित पांडाल एवं मयूर पंखों से सुशोभित व्यासपीठ बन कर तैयार हो चुकी है।

मिशन की इंदौर शाखा के कृष्णमुरारी शर्मा, दिलीप बड़ोले एवं राजेश विजयवर्गीय ने बताया कि दशहरा मैदान पर भक्तों के लिए छायादार शामियाने में महिला-पुरूषों के लिए पृथक बैठक व्यवस्था की गई है। समूचे पांडाल में सुरक्षा की दृष्टि से 20 सीसी टीवी कैमरे एवं 50 सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। पांडाल में 50 बड़े कुलर एवं 400 पंखे लगाए गए हैं। पीछे बैठने वाले भक्तों की सुविधा के लिए दोनो खंडो में चार चार एलईडी स्क्रीन तथा मंच पर भी बड़ी एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। मौसम को देखते हुए पांडाल के चारों ओर शीतल पेयजल के टेंकर उपलब्ध रहेंगे।

बैठक व्यवस्था भारतीय पद्धति से रहेगी। विद्युत की नियमित आपूर्ति के लिए 125 किलो वाॅट क्षमता के दो जनरेटर भी रखे गए हैं। बाहर से आने वाले भक्तों के लिए न्यूनतम मूल्य पर प्रतिदिन सात्विक भोजन भी मिल सकेगा इसके लिए भोजनशाला बनाई गई है जहां एक साथ तीन हजार भक्त बैठ कर भोजन कर सकेंगे। पांडाल के बीचों बीच दर्शन पथ भी बनाया गया है जहां प्रतिदिन संध्या को प्रवचन के पश्चात आचार्यश्री भक्तों को दर्शन देंगे। यहां मां वैष्णोदेवी का दरबार भी बनाया गया है तथा 8-8 फीट ऊंची माताजी दो भव्य प्रतिमाएं भी मैदान परिसर में स्थापित की गई हैं।

मैदान पर करीब 15 स्टाॅल भी लगाए गए हैं जहां पूजन सामग्री, साहित्य, आइस्क्रीम, मटका कुल्फी, मंदिरों में लगने वाली सामग्री आदि की दुकानें रहेंगीं। भक्तों के लिए प्रवेश की व्यवस्था महूनाका से अन्नपूर्णा मार्ग के पहले और दूसरे प्रवेश द्वारों से रहेगी। वाहन पार्किंग की व्यवस्था भी मैदान में ही रहेगी जहां कुष्ठ रोगियों के संगठन को दो पहिया वाहनों से पांच एवं चार पहिया वाहनों से 10 रू. शुल्क निर्धारित किया गया है। मैदान परिसर में सुविधा गृहों की भी पर्याप्त व्यवस्था रखी गई है। सुलभ सुविधा घर के अतिरिक्त 20 नए अस्थाई सुविधा गृह भी बनाए गए हैं।

आयोजन समिति के घनश्याम पटेल, अनिल शर्मा एवं बृजेंद्र आचार्य ने बताया कि आचार्यश्री के भक्तों का आगमन भी शुरू हो गया है। राजस्थान, गुजरात, छग, दिल्ली, हरियाण एवं राज्य के अन्य जिलों से करीब 300 श्रद्धालु पहुंच गए हैं।
आचार्य सुधांशुजी महाराज के पावन सानिध्य में लगभग 6 वर्षों बाद विराट भक्ति सत्संग का आयोजन यहां हो रहा है जिसका शुभारंभ बुधवार 10 अप्रैल को सांय 5 बजे से होगा। 11 से 14 अप्रैल तक प्रतिदिन सुबह 8.30 से 11 एवं सांय 5 से 7.30 बजे तक अपने प्रवचनों की अमृत वर्षा करेंगे। समापन दिवस 14 अप्रैल को दोपहर 12.30 बजे से मंत्र दीक्षा का कार्यक्रम भी होगा।

Spread the love

इंदौर