Dec 07 2021 / 2:53 AM

शुक्रवार को गणेश चतुर्थी: भद्रा होने के बावजूद शुभ मुहूर्त मे कर सकते हैं श्रीगणेश जी की स्थापना जानिए कौन कौन से है शुभ मुहूर्त

शुक्रवार 10 सितंबर को विघ्न विनायक गजानन जी की स्थापना का पर्व गणेश चतुर्थी मनाया जाएगा। इस दिन हिन्दू धर्मावलबी घर घर गणेशजी की मूर्तियां स्थापित करेंगे। दस दिनों तक भव्य आयोजन भी होंगे। इस बार भद्रा होने के बावजूद शुभ मुहूर्त मे श्रीगणेश जी की स्थापना की जा सकती हैं। जानिए कौन कौन से है इसके शुभ मुहूर्त-

🐚रक्ष रक्ष गणाध्यक्ष रक्ष त्रैलोक्यरक्षकं। भक्तानामभयं कर्ता त्राता भव भवार्णवात्॥

श्रीगणेशजी की स्थापना के शुभ मुहूर्त-

~प्रातः 06.13 मि. से 07.45 मि. तक (चर)
~प्रातः 07.46 मि. से 09.17 मि. तक (लाभ)
~प्रातः 09.18 मि. से 10.49 मि. तक (अमृत)
~दोप. 12.21 मि. से 01.53 मि. तक (शुभ)
~दोप. 04.57 मि. से सांयः 06.29 मि. तक (चर)
~रात्रि 09.25 मि. से 10.53 मि. तक (लाभ)

अतिविशिष्ट मुहूर्त-
दोप. 12.21 मि. से 12.45 मि. तक
(अभिजित + मध्याह्न काल + शुभ चौघड़िया)

विशेंष – रवियोग के साथ में ब्रह्म योग एवं स्वाति नक्षत्र के संयोग में प्रातः 11.08 मि. से रात्रि 09.57 मि. तक भद्रा होने के बावजूद शुभ मुहूर्त मे श्रीगणेश स्थापना कर सकते है।

ज्योतिर्विद
पं. गुलशन अग्रवाल
जय महाकाली मंदिर, खजराना
इन्दौर (म.प्र.)
फोन नं. – 9425076405
9303235382

Spread the love

Indore