29 सितंबर से शनि हो रहे मार्गी, जानिए इसका आपकी राशि पर क्या होगा और क्या करें उपाय..

‘तनाव का उतार-चढ़ाव कम होगा’

मेष: मेष राशि के दशम भाव में शनि मार्गी होगा। पिछले 142 दिनों से बना हुआ आर्थिक संकट काफी हद तक दूर होगा। नौकरी में जो तनाव और उतार-चढ़ाव बना हुआ है वह कम होगा। रोगों से मुक्ति मिलने वाली है। सबसे बड़ी बात आपके आजीविका का संकट दूर होगा। स्थितियां अनुकूल होने लगेंगी। विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में उन्नति प्राप्त होगी। विवाह का योग बनेगा। पारिवारिक जीवन में बना हुआ तनाव काफी हद तक आपकी सूझबूझ से कम होगा। आपके द्वारा पूर्व में लिए गए निर्णयों का शुभ परिणाम मिलने वाला है। हालांकि पूरी तरह राहत मिलने में आपको दो से ढाई माह का समय लग सकता है।

उपाय: ओम शं शनैश्चराय नमः मंत्र का जाप करें। चीटियों को शक्कर खिलाएं।

वृषभ: वृषभ राशि के नवम भाव में शनि मार्गी होने जा रहे हैं। यह भाग्य भाव है। यहां शनि के मार्गी होने से आपको भाग्य का साथ तो मिलेगा लेकिन गति धीमी रहेगी। पूर्व में किए गए शुभ कर्मों और दान का परिणाम अब मिलने वाला है। परिवार और दोस्तों के साथ संबंध अच्छे बनाकर रखें। अपनी वाणी में मधुरता लाएं। आपकी लव लाइफ भी मजबूत होगी। आपके रिश्ते अच्छे रहेंगे। परिवार में आपको महत्व मिलने वाला है। बिजनेस और नौकरी में लाभ मिलेगा। अपनी पसंद का काम मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। भविष्य के लिए आपने जो भी तैयारी कर रखी है, उसे और मजबूत कर लें। भाग्योदयकारी योग बनेंगे। आर्थिक रूकावटें खत्म होंगी। साझेदारी में किए गए बिजनेस से लाभ मिलना प्रारंभ हो जाएगा। पारिवारिक सहयोग अच्छा मिलेगा। प्रॉपर्टी, ऑटोमोबाइल से जुड़े बिजनेस में परिवर्तन से लाभ मिलने वाला है।

उपाय: शनिवार के दिन सरसों के तेल में अपनी छाया देखकर उस तेल का दान करें। शनि का साथ मिलेगा।

मिथुन: मिथुन राशि के जातकों के अष्टम भाव में शनि मार्गी होने वाला है। इस राशि के स्वामी शनि के मित्र हैं, इसलिए कुछ मामलों में राहत रहेगी, लेकिन कुछ मामलों में परेशानी उठानी पड़ सकती है। आपको सलाह दी जाती है कि कोई भी काम करें, पहले उसके लिए अच्छे से रिसर्च वर्क कर लें। बिना सोचे-समझे या बगैर भविष्य की योजना बनाए कोई भी काम शुरू कर देना नुकसान दे सकता है। आपकी राशि पर शनि की ढैया चल रही है। इसलिए काम पर फोकस करें। बेवजह के कार्यों में समय और धन खर्च ना करें। यदि आप स्मार्ट और हार्ड वर्क करेंगे तो प्रसिद्धि मिलने वाली है। विवाहितों को अपने मामले निपटाने के लिए प्रैक्टिकल होकर सोचना पड़ेगा। इस दौरान धन संबंधी परेशानी आ सकती है, इसलिए अपनी सेविंग्स बढ़ाएं। अपनी वाणी पर संयम रखें। वरना परिवार में मनमुटाव हो सकता है। जीवनसाथी का प्रेम पाना है तो उनके परिजनों को साथ लेकर चलना होगा।

उपाय: शनि चालीसा का पाठ 21 दिनों तक करें।

कर्क: कर्क राशि के सप्तम भाव में शनि मार्गी हो रहा है। यहां से आपके पारिवारिक, निजी, दोस्तों, रिश्तेदारों, पड़ोसियों से रिश्तों में सुधार की संभावना बनेगी। हालांकि अपने बिजनेस पार्टनर के साथ आपके वाद-विवाद बढ़ सकते हैं, लेकिन परिस्थितियों को अपने अनुकूल बनाने के प्रयास आप करेंगे तो लाभ होगा। प्रेम संबंधों को विवाह में बदलने के लिए परिवार का सहयोग लेना पड़ेगा। युवाओं को अपने कॅरियर पर ध्यान देना है। यदि आप कोई बिजनेस करना चाहते हैं तो शनि से संबंधित काम में अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इस दौरान आपका भाग्य मजबूत रहेगा। जॉब बदलने के लिए समय ठीक है। कार्यों को आगे टालने की प्रवृत्ति छोड़ना होगी। नए रिश्ते संबंध बनेंगे। अचानक कहीं यात्राएं करना पड़ सकती है। आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे, लेकिन इसमें परिवारजनो के अनुभव का लाभ जरूर लें।

उपाय: शनि स्तोत्र का पाठ प्रत्येक शनिवार करें। शनिदेव को तेल अर्पित करें।

सिंह: सिंह राशि के जातकों के लिए शनि छठे भाव में मार्गी होने जा रहा है। यह भाव रोग, शत्रु और कर्ज का स्थान है। आप लंबे समय से अगर रोगों से जूझ रहे हैं तो आपको उसमें राहत मिलने वाली है। कर्ज से परेशान हैं तो ध्यान रखिए कर्ज पूरी तरह समाप्त हो नहीं होगा, लेकिन आय के नए स्रोत मिलने से सेविंग बढ़ेगी। इस दौरान शत्रु आपका कुछ बिगाड़ नहीं पाएंगे, हालांकि वे कोशिश बहुत करेंगे। कॅरियर, जॉब, बिजनेस में चुनौतियां बहुत आएंगी लेकिन आप आत्मविश्वास के साथ हार्ड वर्क करेंगे तो सारी चुनौतियों से पार पा जाएंगे। आपको आय के नए स्रोत तलाशने होंगे। सामाजिक और पारिवारिक जीवन में प्रतिष्ठा बढ़ेगी। अपनी सफलता से दूसरों को नीचा दिखाने की कोशिश ना करें। पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में तालमेल बनाकर चलना होगा।

उपाय: जीवों को भोजन करवाएं। गाय और कुत्ते को रोटी जरूर खिलाएं।

कन्या: आपके लिए शनि पांचवें घर में मार्गी होंगे। यहां संतान और शिक्षा का भाव है। शिक्षा के लिहाज से अब समय अनुकूल आ रहा है। वक्री शनि के कारण शिक्षा के क्षेत्र पर बुरा असर देखने को पड़ा। बच्चों से लेकर कॉलेज और प्रोफेशनल एक्जाम तक इस दौरान प्रभावित हुई, लेकिन अब धीरे-धीरे स्थितियां सुधार की तरफ बढ़ रही है। पारिवारिक जीवन में अपनी संतानों के मन में चलकर बातों को समझना होगा। उनसे दोस्त बनकर व्यवहार करें। किसी भी प्रकार की तनावपूर्ण बातें उनके साथ आपके संबंध बिगाड़ सकती है। लव पार्टनर के साथ आपके रिश्तों में सुधार आएगा। इस समय में आपको पुराने निवेश से लाभ मिलने वाला है। यदि कोई नया बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो शनि से संबंधित कार्य आपको लाभ दे सकते हैं।

उपाय: दशरथकृत शनि स्तोत्र का नियमित रूप से पाठ करें।

तुला: आपकी राशि पर पहले से शनि का लघु कल्याणी ढैया चल रहा है और शनि आपके चतुर्थ स्थान में मार्गी होने जा रहा है। यह सुख स्थान है। इसलिए संभव है आपके सुखों में वृद्धि करे। शनि के वक्री होने के समय से आपको जिन आर्थिक, पारिवारिक और सामाजिक संकटों का सामना करना पड़ा, गंभीर रोगों से परेशान रहे, उनमें अब आपको राहत मिलने वाली है, लेकिन ध्यान रखें, अभी एकदम से सबकुछ ठीक नही होने वाला, आपको धैर्य रखना होगा। सतर्कता और सावधानी रखना होगी। अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए आपने अभी तक जो भी प्रयास किए और उनमें लाभ नहीं मिला तो अब 29 सितंबर के बाद से आपको उसका शुभ फल मिलने वाला है, लेकिन आपको कार्य में कुछ बदलाव लाना होगा। मार्केट के हिसाब से रिसर्च करके अपने काम में बदलाव करेंगे तो लाभ मिलेगा। जॉब में बदलाव संभव है।

उपाय: शनिवार के दिन शनिदेव का तेलाभिषेक करें। चीटियों के लिए आटा शक्कर मिलाकर रखें।

वृश्चिक: आपके लिए शनि तृतीय स्थान में मार्गी होने जा रहा है। पराक्रम, भाई-बहन के घर में मार्गी रहेंगे। इस दौरान आपका आत्मविश्वास मजबूत रहेगा। भाई-बहनों से संबंध अच्छे रहेंगे। प्रेम संबंधों में टकराहट आ सकती है, इससे बचने के लिए अपने पार्टनर पर किसी प्रकार का शक करने से बचें। परिवार पर उनकी जरूरतों पर ध्यान दें। प्रोफेशनली आपको एक्टिव रहना होगा। कार्यों में आलस्य करना मुश्किलों में डाल देगा। कार्य और जॉब में परिवर्तन की संभावनाएं हैं। ऐसे लोगों से दूर रहें जो हर वक्त आपका हौसला पस्त करने की कोशिश करते हों। यदि बिजनेस को करने के लिए यदि आप कर्ज लेने जा रहे हैं तो अपनी सीमाओं का ध्यान रखते हुए ही कर्ज लें। सेहत का विशेष ध्यान रखना होगा।

उपाय: शनिवार के दिन गरीबों को नमकीन चावल बनाकर खिलाएं। शनि प्रसन्न होंगे।

धनु: शनि आपके धन स्थान में मार्गी होने वाले हैं। माता-पिता और परिवार के बुजुर्गों के सहयोग से प्रॉपर्टी के मसले हल होंगे। परिवार के साथ रिश्तों में सुधार का लाभ अनेक जगहों पर आपको मिलने वाला है। शनि के वक्री होने के समय से चल रहा आर्थिक संकट अब दूर होने वाला है। धन आगमन के नए मार्ग खुलेंगे। अचानक कहीं से बड़ी धन राशि प्राप्त हो सकती है। भाग्य का साथ मिलने से असंभव कार्यों को भी संभव कर पाएंगे, लेकिन अपनी वाणी में अहंकार और कटुता बिलकुल ना लाएं। चाहे आप कितने भी बड़े और अमीर हों, अपने से छोटों को सदा साथ लेकर चलना होगा। जीवनसाथी के साथ आपका तालमेल बेहतर होगा। प्रेम संबंधों को कोई नाम मिल जाएगा। नौकरीपेशा लोगों को जॉब में बदलाव होगा। शत्रुओं की साजिश से बचकर रहें।

उपाय: गरीबों, अपाहिज लोगों की मदद करें। स्वयं योग-प्राणायाम करें।

मकर: शनि इसी राशि में मार्गी हो रहा है और इसी राशि का स्वामी भी है। यहां शनि के मार्गी होने से शश नामक राजयोग बन रहा है, जो आपके लिए विशेष लाभदायी होने वाला है। यदि आप शनि से जुड़े कार्यों में लगे हैं तो लाभ मिलेगा। आपके संपर्कों में वृद्धि होगी, जिसका लाभ आपको बिजनेस में मिलेगा। सेहत में थोड़ी गिरावट आ सकती है। अस्वस्थ लोगों से दूर रहें। उन्नति के दरवाजे आपके लिए खुलने वाले हैं। लंबे समय से अटकी हुई इच्छा पूरी होने वाली है। विवाहित जीवन सुखी होगा। प्रेम में लाभ, लव और बिजनेस पार्टनरशिप को बेहतर करने का मौका मिलेगा। मतभेद-मनभेद आएंगे लेकिन उनसे दूर रहें। नकारात्मक विचारधारा वाले लोगों से दूर रहें। अपनी वाणी के कारण लाभ कमाएंगे। आय के नए स्रोत मिलने वाले हैं। नए बिजनेस जॉब मिलने वाला है। शिक्षा के क्षेत्र में सफलता मिलेगी। खुद को कमजोर न समझें अपनी काबिलियत को पहचानें और आत्मविश्वास से आगे बढ़े।

उपाय: शाम के समय शनि स्तोत्र का पाठ करें। रोगियों की सेवा करें।

कुंभ: कुंभ राशि के लिए शनि द्वादश भाव में मार्गी हो रहा है। यह भाव खर्च का भाव है। इसलिए आपको अपने खर्चों को रोकना होगा। बेवजह के व्यय करेंगे तो भविष्य के लिए कुछ बचाना मुश्किल हो जाएगा। हालांकि आय के स्रोत बढ़ेंगे। अपने वर्कप्लेस में अधिक अच्छे मौके मिलेंगे। अपने सपनों को साकार करने का मौका मिलेगा लेकिन उसमें आपको भरोसेमंद लोगों का साथ लेना पड़ेगा। जो भी बिजनेस आप कर रहे हैं, उसमें कुछ लाभ मिलेगा, लेकिन कार्य में बदलाव लाना होगा। पैतृक संपत्ति के विवादों का निपटरा होगा। पारिवारिक माहौल अच्छा रहेगा। धर्म-कर्म के कार्यों में मन लगेगा। वाहन दुर्घटना की स्थिति रहेगी इसलिए वाहन चलाते समय सावधानी रखें। विद्यार्थियों के लिए समय उत्तम है। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

उपाय: शनिवार के दिन बड़, पीपल और नीम की त्रिवेणी में मीठा दूध अर्पित करें।

मीन: मीन राशि के लिए आय स्थान यानी ग्यारहवें भाव में मार्गी होने जा रहे हैं। आर्थिक संकट दूर होगा। खर्च अधिक होने के बावजूद आय अच्छी रहने से लाभपूर्ण स्थिति में रहेंगे। कर्ज लेने से बचें। परिवर्तन करना चाहते हैं तो उसे कर डालिए। अपने बिजनेस और जॉब में धैर्य रखते हुए आगे बढ़े, लाभ की स्थितियां बनती जा रही है। इसके लिए आपको लगातार प्रयास करते रहना होगा। कार्यों को टालने की आदत छोड़ दें। जॉब में वेतन वृद्धि, प्रमोशन मिलेगा, अपने काम पर फोकस करें। वाहन चलाते समय सावधानी रखें। किसी भी काम में जल्दबाजी ना करें। अपनी वाणी को कटु न होने दें। प्रेम संबंधों में तल्खी आएगी, लेकिन शांत रहें। क्रोध न करें। सब अपने आप ठीक हो जाएगा।B

उपाय: शनिवार के दिन हनुमान चालीसा, या बजरंग बाण का पाठ करें

साभार- पंडित कैलाश शर्मा, इंदौर

Spread the love

5

इंदौर