Aug 21 2019 /
10:51 AM

इंदौर में 21 दिन में सवा लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने किया शिव रुद्राभिषेक

इंदौर। पवित्र सावन मास में आयोजित 21 दिनी शिव रुद्राभिषेक महानुष्ठान की गत शुक्रवार को पूर्णाहुति हुई। 21 दिनों में सवा लाख से भी अधिक श्रद्धालुओं ने अनुष्ठान किया और खुशहाली की कामना की। इस अनुष्ठान में क्षेत्र क्रमांक 1 के 17 वार्डों के अलावा शहरभर के हजारों श्रद्धालु जुटे। पूर्णाहुति अवसर पर दलालबाग बाग-बाग हो गया और पांडाल छोटा पड़ गया। श्रद्धालु भाव-विभोर हो गए।

सावन मास में शिवजी की भक्ति के लिए लगातार दूसरे वर्ष कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने क्षेत्र क्रमांक 1 में शिव रुद्राभिषेक का महाधार्मिक रुद्राभिषेक किया। पहले चरण में भागीरथपुरा, दूसरे चरण में बाणगंगा स्थित बाणेश्वर कुंड व तीसरे चरण में एयरपोर्ट रोड स्थित दलालबाग में रुद्राभिषेक हुआ। प्रतिदिन प्रात: 7.30 बजे से दोपहर 12 बजे तक वैदिक विधिविधान के साथ विद्वान पंडितों द्वारा अभिषेक पूजन करवाया।

तत्पश्चात महाप्रसादी का आयोजन भी नियमित हुआ। प्रतिदिन अनुष्ठान में 4 हजार श्रद्धालुओं के लिए अभिषेक पूजन की व्यवस्था की गई थी, लेकिन संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही थी।

इस महानुष्ठान में शहरभर के साधु-संत, महंत, धार्मिक, सामाजिक, व्यापारिक, शैक्षणिक, राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र की हस्तियां भी पहुंची और सभी ने शिवजी की आराधना की।

आयोजन में प्रदेश सरकार के केबिनेट मंत्री जयवर्धनसिंह, बाला बच्चन, जीतू पटवारी व केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त कम्प्यूटर बाबा सहित अन्य विशिष्टजन भी अनुष्ठान व आरती में शामिल हुए। पूर्णाहुति अवसर पर मुख्य रूप से महंत लक्ष्मणदास महाराज पूजन-अर्चन के लिए पहुंचे और उन्होंने इस आयोजन के लिए विधायक संजय शुक्ला और उनकी टीम को बधाई दी।

आरती में विधायक संजय शुक्ला, श्रीमती अंजली शुक्ला, सुनीता राजेन्द्र शुक्ला, अनिता सर्वेश तिवारी, राखी दुबे, सुनील परिहार, प्रेम खडय़ता, शिव गुप्ता, मंजीत टूटेजा, टंटू शर्मा, अजय शर्मा,हरीश भावसार सहित बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया।

अनष्ठान के दौरान धार्मिक और सामाजिक समरसता का अनूठा दृश्य भी देखा गया। आयोजन की सुचारू व्यवस्था संचालित करने के लिए 200 से भी अधिक कार्यकर्ताओं की टीम सतत् रूप से जुटी रही। महिलाओं की कमान श्रीमती अंजली शुक्ला, सुनीत शुक्ला और युवाओं की कमान आकाश शुक्ला, सागर शुक्ला संभाल रहे थे।

Spread the love

इंदौर