Apr 22 2019 /
9:37 AM

12 फरवरी को मनाई जाएगी नर्मदा जयंती

इस बार नर्मदा जयंती 12 फरवरी। मंगलवार को मनाई जाएगी। पंचाग के अनुसार माघ माह के शुक्ल पक्ष की सप्तमी के दिन हर वर्ष नर्मदा जयंती महोत्सव मनाया जाता है। मां नर्मदा के जन्मस्थान अमरकंटक में ये उत्सव बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इसके अलावा खेड़ीघाट पर भी कार्यक्रम होते हैं। मकर संक्रांति के त्योहार के बाद नर्मदा जयंती उत्सव मनाया जाता है। भारत में 7 धार्मिक नदियां हैं जिसमें से मां नर्मदा को भगवान शिव ने देवताओं के पाप धोने के लिए उत्पन्न किया था। माना जाता है कि इसके पवित्र जल में स्नान करने से सारे पाप धुल जाते हैं।

जयंती के दिन नदी के सभी तटों को सजाया जाता है और नदी के किनारे साधू-संत हवन करते हैं। इस दिन मां नर्मदा के पूजन के बाद भंडारा आदि किया जाता है और जरुरतमंदों को भोजन करवाया जाता है। नर्मदा जंयती के दिन शाम को नदी किनारे कई सारे कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। शाम को मां नर्मदा की महाआरती की जाती है। माना जाता है जो भक्त इस दिन मां नर्मदा का पूजन करते हैं उनके सभी पाप नष्ट हो जाते हैं। आराधना के साथ इसमें स्नान करने से अनेक रोगों से छुटकारा मिलता है।

Spread the love

इंदौर