सकारात्मक लोगों से जुड़े रहें तो नकारात्मकता होगी खत्म, आरुष फाउंडेशन द्वारा वर्ल्ड विटिलिगो डे को लेकर चल रहे छह दिनी कार्यक्रमों के बीच हुआ सफल ऑनलाइन सेमिनार

मुंबईआरुष फाउंडेशन के तत्वावधान में वर्ल्ड विटीलिगो डे पर छः दिवसीय कार्यक्रम के अवसर पर आयोजित ऑनलाइन सेमिनार काफी सफल रहा।सेमिनार में लोगों ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया।

आरुष फाउंडेशन विटिलिगो लोगो के लिए देश विदेश में बहुत अच्छा कार्य कर रहा है।आरुष फाउंडेशन जन जागरण अभियान चला रहा है, जिससे लोगो को सफ़ेद दाग (विटिलिगो) के प्रति होने वाली कुप्रथाओ और अफवाहों से बचाया जा सके।


ऑनलाइन सेमीनार के वक्ता समाजसेवी मधुसूदन दास ने अपने प्रेरणादायी वक्तव्य में कहा कि जीवन में आने वाली निराशाओ से घबराएं नहीं बल्कि उनका समाना करें। एक श्रोता द्वारा जब उनसे ये पूछा गया कि जीवन में हमेशा नेगेटिव चीजें होती रहती है तो ऐसे में खुद को कैसे पॉजिटिव रखें?
जिसका उन्होंने बहुत सुंदर तरीके से जवाब देते हुए बताया कि जीवन में ख़ुद को पॉजिटिव रखने का सबसे अच्छा उपाय है आप हमेशा पॉजिटिव लोगों के संपर्क में रहे। अपना संग अच्छा रखें। जो खुद सकारात्मक (पॉजिटिव) होगा वहीं दूसरों में सकारात्मकता के गुण विकसित कर सकता है।इसलिए जीवन में हमेशा अच्छे लोगो का संग करें जिससे कि आप भी अच्छा बन सके।

जब उनसे पूछा गया कि हम खुद को पॉजिटिव रखने की कोशिश तो करते है लेकिन रह नहीं पाते, जीवन में ऐसी कोई घटना घटित होने लगती है जिससे हमारे अंदर नकारात्मकता हावी होने लगती है, उससे बचने के लिए क्या किया जाएं?

इसके उत्तर में उन्होंने कहा कि लोगो को ऐसी विषम परिस्थितियों में भी ख़ुद के अंदर सकारात्मकता बनाएं रखना होगा। हमेशा सकारात्मकता के लिए आपको इसका निरंतर अभ्यास करना होगा। जैसे ज़मीन से बिल्डिंग काफ़ी ऊंची दिखाई देती है लेकिन जब हम अपने पुरुषार्थ से हवाई जहाज बना लेते है तो उसी जहाज से हम आसमान तक पहुंच जाते है, तब हमें वहीं बिल्डिंग छोटी लगती है जो कि ज़मीन पर रहने के दौरान बहुत बड़ी और ऊंची प्रतीत होती है।


उन्होंने कहा कि ऐसे ही समस्याओं से भी आपको ऊपर उठने की जरूरत है। ख़ुद को अभ्यास से इतना ऊपर उठा लो की समस्या आपको छोटी लगने लगे। आप समस्याओं से प्रभावित न हो।

आरुष फाउंडेशन के आकाश तिवारी ने बताया कि आगामी सभी कार्यक्रमों से जुड़ने के लिए आप फेसबुक पर आरुष फाउंडेशन के पेज से जुड़ सकते है। आप आरुष फाउंडेशन से इंस्टाग्राम और यू ट्यूब से भी जुड़ सकते है।

Spread the love

इंदौर