Feb 19 2019 /
6:00 AM

6 खिलाडियों के सस्ते में आउट होने के बाद भी भारत ने न्यू जीलैंड को हराया, सीरीज 4-1 से जीती

वेलिंग्टन। टीम के छह बल्लेबाज सस्ते में आउट होने के बावजूद उसके गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पांचवां और आखिरी वनडे मैच रविवार को 35 रनों से जीत लिया। इसी के साथ भारत ने 5 मैचों की वनडे सीरीज पर 4-1 से कब्जा कर लिया।

वेस्टपैक स्टेडियम में खेले गए आखिरी मैच में 253 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम को भारत ने 44.1 ओवर में 217 रनों पर ऑल आउट कर दिया। मेजबान टीम के लिए ऑलराउंडर जेम्स नीशम (44) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। उनके अलावा केन विलियमसन (39), टॉम लेथम (37) कोलिन मुनरो (24), मिशेल सैंटनर (22) हेनरी निकॉल्स (8), कोलिन डी ग्रांडहोम​ (11), टोड एस्ले ने (10), रॉस टेलर (1) और ट्रेंट बोल्ट ने 1 रन बनाया। मैट हेनरी 17 रन बनाकर नाबाद रहे। अंबाती रायडू (90) को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। वहीं, सीरीज में कुल 9 विकेट झटकने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को मैन ऑफ द सीरीज के पुरस्कार से नवाजा गया।

भारत की ओर से युजवेंद्र चहल ने सबसे अधिक विकेट चटकाए। उन्होंने तीन बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। वहीं, मोहम्मद शमी और हार्दिक पांड्या ने दो-दो विकेट झटके। इसके अलावा भुवनेश्वर कुमार और केदार जाधव ने एक-एक हासलि किया। भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया है। भारत ने 10 साल बाद न्यूजीलैंड में पहली बार द्विपक्षीय सीरीज जीती है। इससे पहले उसने 2009 में सीरीज अपने नाम की थी।भारत ने बाती रायडू की बेहतरीन बल्लेबाजी की बदौलत न्यूजीलैंड के खिलाफ 252 रन का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया। मेहमान टीम 49.5 ओवर में ढेर हो गई थी। भारत के लिए सबसे ज्यादा रन अंबाती रायडू ने बनाए। उन्होंने 113 गेंदों की अपनी पारी में 8 चौके और 4 छक्के जड़े। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। भारत की खस्ता हालत का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उसके छह बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (2) और शिखर धवन (6) के जल्द पवेलियन लौटने बाद भारतीय पारी लड़खड़ा गई। शुभमन गिल (7) और महेंद सिंह धोनी (1) भी ज्यादा देर टिक नहीं सके। एक समय भारत का कुल स्कोर पर 18 रन पर 4 विकेट था। यहां से अंबाती रायडू और विजय शंकर (45) ने मोर्चा संभाला और टीम को 100 रन के पार ले गए। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 98 रनों की अहम पार्टनरशिप की। हालांकि, शंकर अपना अर्धशतक जड़ने से चूक गए और 116 के कुल स्कोर पर आउट हो गए। इसके बाद रायडू ने केदार जाधव (34) के साथ पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने छठे विकेट के लिए 74 रन जोड़े और टीम को 200 रन के करीब ले गए। रायडू के 190 के कुल स्कोर पर विकेट गंवाने के बाद यह साझेदारी टूट गई। उनके पवेलियन जाने के कुछ देर बाद जाधव भी 203 कुल स्कोर पर आउट हो गए।

इसके बाद आठवें नंबर पर क्रीज पर आए हार्दिक पांड्या (45) ने ताबतड़तोड़ बल्लेबाजी कर टीम को 250 रन के नजदीक पहुंचाया। उन्होंने 22 गेंदों की अपनी पारी में 2 चौके और 5 शानदार छक्के लगाए। उनका विकेट 248 के कुल स्कोर पर गिरा। उनके आउट के बाद टीम सिर्फ 4 और जोड़कर सिमट गई। निचले क्रम में बल्लेबाजी के लिए भुवनेश्वर कुमार ने 5 और मोहम्मद शमी ने 1 रन बनाया। वहीं, युजवेंद्र चहल (0) नाबाद पवेलियन लौटे। न्यूजीलैंड की ओर से मैट हेनरी और ट्रेंट बोल्ट ने अच्छी गेंदबाजी की। हेनरी ने 4 और बोल्ट ने 3 विकेट अपने नाम किए। इसके अलावा जेम्स नीशम को 1 विकेट मिला जबकि भारत के दो बल्लेबाज रन आउट हुए।

Spread the love

इंदौर