इंग्लैंड में भारत का शर्मनाक प्रदर्शन 4-1 से सीरीज हारे

लन्दन। पांचवें टेस्ट में हार के साथ मंगलवार को टीम इंडिया का इंग्लैंड दौरा समाप्त हुआ। विराट ब्रिगेड को सीरीज के पांचवें व अंतिम टेस्ट में इंग्लैंड के हाथों 118 रन की करारी शिकस्त झेलनी पड़ी।

मेजबान टीम ने अपने पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक को विजयी विदाई दी। इंग्लैंड ने पांच मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम की।
पांचवें टेस्ट मैच के आखिरी दिन टीम इंडिया को पहला झटका
उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे के रूप में लगा।

चौथे दिन तीन विकेट जल्दी गिरने के बाद रहाणे ने केएल राहुल के साथ मिलकर 100 रनों की साझेदारी पूरी की और स्कोरबोर्ड पर टीम की उम्मीदों को जिंदा रखा। रहाणे (37) मोइन अली की गेंद पर स्वीप शॉट मारने के चक्कर में कीटोन जेनिंग्स को अपना कैच दे बैठे।

इसके बाद अगले ही ओवर में अपना डेब्यू मैच खेल रहे पहली पारी के हीरो हनुमा विहारी भी बिना खाता खोले क्रीज से लौट गए। विहारी बेन स्टोक्स की गेंद पर पर चकमा खा गए और उनका कैच विकेट के पीछे जॉनी बेयरस्टो ने पकड़ लिया।

इसके बाद क्रीज पर केएल राहुल के साथ देने उतर ने ऋषभ पंत ने बल्लेबाज में शानदार प्रदर्शन किया। दोनों के बीच छठे विकेट के लिए 204 रन की पार्टनरशिप की और मैच में टीम इंडिया की उम्मीद को जिंदा रखा।

हालांकि केएल राहुल (149) इंग्लैंड के स्पिन गेंदबाज आदिल राशिद का शिकार हो गए। राशिद की आश्चार्यजनक गेंद ने राहुल का ऑफ स्टंप उखाड़ दिया। जडेजा ने इस पारी में 20 चौक्के और एक छक्का लगाया।

केएल राहुल के आउट होते ही ऋषभ पंत (114) भी बहुत देर तक अपना संघर्ष जारी न रख सके। आदिल राशिद की गेंद पर गैर जिम्मेदाराना तरीके का शॉट खेलकर वह अपना कैच मोइन अली को थमा बैठे। पंत ने इस पारी में 15 चौके और 4 छक्के जड़े।

पंत के बाद क्रीज पर जडेजा का साथ देने उतरे इशांत शर्मा (5) ने इंग्लिश गेंदबाजों का बखूबी सामना किया। लेकिन सैम करन की बाहर जाती गेंद पर वह बल्ले का किनारा लगा बैठे और उनका कैच विकेट के पीछे बेयरस्टो ने पकड़ लिया।

इसके थोड़ी ही देर बार रवींद्र जडेजा (8) भी सैम करन की गेंद पर बेयरस्टो को अपना कैच दे बैठे। इसके बाद एंडरसन ने मोहम्मद शमी को क्लीन बोल्ड करके इंग्लैंड की जीत पर मुहर लगाई।

विराट ब्रिगेड का पांचवां टेस्ट जीतना बहुत मुश्किल नजर आ रहा है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 332 रन पर सिमट गई थी।

जिसके जवाब में टीम इंडिया की पहली पारी 292 रन पर ऑलआउट हो गई। इस तरह पहली पारी के आधार पर मेजबान टीम इंग्लैंड को 40 रन की बढत मिली।

Spread the love

इंदौर