Dec 09 2022 / 5:46 PM

महाराष्ट्र में बन गई बात! शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी साथ मिलकर बनाएगी सरकार

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में अभी भले ही राष्ट्रपति शासन लगा हो, लेकिन सरकार बनाने के लिए सभी पार्टियां पूर-जोर आजमाइश में लगी है। इसी बीच खबर है कि शिवसेना का महाराष्ट्र में सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया है। गुरुवार को तीनों पार्टियों के बीच लंबी चली बैठक के बाद शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के बीच सरकार बनाने को लेकर समझौता हो गया है।

समझौते के तहत शिवसेना को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री पद मिलेगा। वहीं कांग्रेस और एनसीपी के खाते में एक-एक उपमुख्यमंत्री पद दिया जाएगा। सूत्रों के अनुसार दो दिनों के भीतर शिवसेना सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है।

साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को 14 और कांग्रेस को 12 मंत्रीपद मिलेगा। खुद शिवसेना के खाते में भी मुख्यमंत्री पद के अलावा 14 मंत्री पद भी आएंगे। हालांकि सरकार बनाने के लिए तीनों दलों के बीच हुए समझौते में हिंदुत्व के मुद्दा को शामिल नहीं किया गया है।

सूत्रों के हवाले से मिली खबरों के अनुसार इस हफ्ते कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और एनसीपी नेता शरद पवार के बीच मुलाकात हो सकती है। सीएमपी पर किसानों और युवाओं से जुड़े मामलों पर फोकस करने पर भी सहमति बनी है। कुछ मामले ऐसे हैं जिन पर आपसी रजामंदी नहीं बन सकी है।

समझौते में शिवसेना ने विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न दिए जाने की मांग की है तो वहीं कांग्रेस-एनसीपी मुसलमानों को 5 फीसदी आरक्षण देने की मांग कर रही है। माना जा रहा है कि इन दोनों मुद्दों पर विवाद बना हआ है।

Share with

INDORE