भारतीय समुदाय से बोले मोदी-थाईलैंड की राजकुमारी संस्‍कृत की जानकार: Modi in Thailand

नई दिल्ली में जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल की मेजबानी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को थाईलैंड की तीन दिवसीय यात्रा पर पहुंचे। अपनी यात्रा के दौरान, वह आसियान, पूर्वी एशिया और आरसीईपी शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। बैंकॉक में भारतीय समुदाय के सदस्यों द्वारा होटल मैरियट मारकिस में प्रधानमंत्री का स्वागत किया गया।

प्रधानमंत्री ने यहां भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आज आप सभी के बीच थाईलैंड में हूं। लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं किसी विदेशी भूमि में हूं। यहां का माहौल, पोशाक, सब कुछ मुझे घर जैसा महसूस कराता है।

भारत के लिए थाईलैंड के शाही परिवार की आत्मीयता, हमारे गहरे मैत्रीपूर्ण और ऐतिहासिक संबंधों का प्रतीक है। राजकुमारी महा चक्रि सिरिंधोर संस्कृत भाषा की विशेषज्ञ हैं और संस्कृति में उनकी गहरी रुचि है। हम भाग्यशाली हैं कि भारत ने पद्म भूषण पुरस्कार और संस्कृत सम्मान के माध्यम से उनके प्रति अपना आभार व्यक्त किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती के अवसर पर एक स्मारक सिक्का जारी किया और बैंकॉक में #SawasdeePMModi कार्यक्रम में तमिल क्लासिक ‘तिरुक्कुरल’ का थाई अनुवाद भी जारी किया।

अपनी यात्रा के दूसरे दिन 3 नवंबर रविवार को मोदी थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयाण चान-ओ-चा के साथ 16 वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन की सह-अध्यक्षता करेंगे। थाई पीएम चान-ओ-चा के निमंत्रण पर, पीएम मोदी देश का दौरा कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय के सचिव (पूर्व) विजय ठाकुर सिंह ने एक प्रेस वार्ता के दौरान कहा, “आसियान से संबंधित शिखर सम्मेलन हमारे राजनयिक कैलेंडर का एक अभिन्न हिस्सा हैं। यह प्रधानमंत्री मोदी का सातवां आसियान-भारत शिखर सम्मेलन और छठा पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन होगा।”

Spread the love

7

इंदौर