Oct 17 2019 /
12:59 AM

अमेरिका के विवेक को ‘कमजोरी’ समझने की भूल नहीं करे ईरान

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जॉन बोल्टन ने ईरान को रविवार को आगाह करते हुए कहा कि वह “अमेरिका की समझदारी को उसकी कमजोरी समझने की भूल न करे।” इससे पहले अमेरिका ने ईरान द्वारा अमेरिकी ड्रोन को मार गिराए जाने के जवाब में किए जाने वाले सैन्य हमलों को अचानक रद्द कर दिया था। बोल्टन के इस सख्त संदेश को न सिर्फ ईरान को चेतावनी दिए जाने के तौर देखा जा रहा है, बल्कि यह अमेरिका के मुख्य सहयोगियों को भी इसको लेकर आश्वस्त करता प्रतीत होता है कि व्हाइट हाउस ईरान पर दवाब बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है।

खाड़ी में अरब देशों के साथ ही इजराइल ईरान को अपने लिए सबसे बड़ा खतरा मानता है और ईरान पर हमले को अंतिम क्षणों में रद्द किए जाने के ट्रंप के फैसले से इस्लामी गणराज्य के खिलाफ बल प्रयोग की अमेरिका की मंशा पर सवाल उठते हुए प्रतीत हो रहे हैं। बृहस्पतिवार (20 जून) को अमेरिकी ड्रोन को मार गिराए जाने की घटना से अमेरिका एवं ईरान के बीच बढ़ते तनाव नये स्तर पर पहुंच गए।

Spread the love

इंदौर